Incredible Bihar, Bihar News, Bihar Tourism, Bihar Politics, Hamara Bihar, Special in Bihar

Latest Post

case-of-robbery-in-sonpur-bihar

हाजीपुर/सोनपुरबिहार के सोनपुर में रविवार की रात करीब 2 बजे एक दवा कारोबारी के घर में घुसकर डकैतों ने 2 लाख रुपए कैश समेत 11 लाख रुपए की ज्वैलरी लूट ली। इसके बाद डकैतों ने आराम से बैठकर कुरकुरे और काजू खाए फिर जब जाने लगे तो कहा कि अगली बार खाना बनाकर नहीं रखा तो गोली मार देंगे। जानिए पीड़ित ने और क्या बताया...
- सोनपुर के परवेजाबाद के रहने वाले दवा के होल सेल विक्रेता शैलेश कुमार पत्नी किरण और साढू की बेटी जूही के साथ परवेजाबाद में रहते हैं।
- डकैतों ने पहले बांस की सीढ़ी घर के पीछे लगाकर पहली मंजिल की बालकनी में घुसे। उसके बाद बालकनी का दरवाजा तोड़ा और घर में जा घुसे।
- अचानक दरवाजा टूटने की आवाज पर शैलेश की पत्नी की नींद खुल गई। उनके उठते ही डकैतों ने हथियार के बल पर उन्हें चुप रहने को कहा।
- इसके बाद बगल में सोए शैलेश की भी नींद खुल गई, उन्हें भी हथियार के बल पर चुप करा किया। घर के पर्दे फाड़कर डकैतों ने दोनों पति पत्नी के हाथ पैर और मुंह बांध दिए।
- अचानक दूसरे रूम का दरवाजा बंद रहने के कारण डकैतों ने धमकी भरे लहजे में पूछा कि उस कमरे में कौन है?
- जब पता चला कि उसमें उनके साढू की बेटी है तो उन्होंने दरवाजा खटखटाकर उसे उठाया और हथियार के बल पर उसे भी अपने कब्जे में ले लिया।
- उसके बाद लुटेरों ने पहले कमरे में रखा दो लाख रुपए ले लिया और फिर अलमारी से लगभग 9 लाख रुपए की ज्वैलरी ले ली।
डकैत बोले- अगली बार खाना बना कर रखना नहीं तो गोली मार दूंगा

- शैलेश ने बताया कि डकैतों की संख्या सात थी। कैश और गहने लूटने के बाद एक डकैत ने कहा यार छोटू जोर से भूख लगी है।
- उन्होंने पहले खाना मांगा फिर किचन में रखे कुरकुरे और काजू लेकर खाने लगे और कहा अगली बार खाना बनाकर रखना, नहीं तो गोली मार दूंगा।
- इतने में दूसरे ने कहा अरे अकबर ये अच्छे लोग हैं। हम न तो इन्हें मारेंगे और न ही इनकी इज्जत से खेलेंगे।
- इतने में पत्नी का दम फूलने लगा तो डकैतों ने दूसरे कमरे में रखी दवाई ला कर उन्हें खिलाई।
- इसके बाद उन्होंने हमसे कार की चाबी मांगी, लेकिन इतने में फोन आ गया और वे लोग जल्दी से भाग निकले।
(जैसा व्यवसायी शैलेश कुमार साह ने दैनिक भास्कर को बताया)
ये आभूषण ले गए डकैत
लुटेरे ज्वैलरी में सोने का झुमका 1 जोड़ा 10 ग्राम लगभग, सोने की चेन 5 ग्राम, सोने की अंगूठी 5 ग्राम, सोने का टॉप्स 1 जोड़ा 10 ग्राम, कान की बाली 8 ग्राम, सोने का टीका और नथिया 10 ग्राम, लॉकेट 8 ग्राम, जीतिया 5 ग्राम और चांदी की पायल सहित अन्य ज्वैलरी जो करीब 250 ग्राम के थे उसे भी ले लिए।
सभी की उम्र 18 से 25 के बीच, भाषा- खड़ी हिंदी
- शैलेश ने बताया की डकैतों की उम्र 18 से 25 के बीच ही थी। वे लोग आपस में खड़ी हिंदी में ही बात कर रहे थे।
- वे लोग आपस में नाम लेकर बात नहीं करना चाह रहे थे लेकिन बात करने के दौरान छोटू और अकबर का नाम जरूर उनकी जुबान पर आ गया था।

Source: Bhaskar

woman-burnt-alive-with-chair-in-mujaffarpur

मुजफ्फरपुर. बिहार के मुजफ्फरपुर में एक महिला इंजीनियर को कुर्सी से बांधकर जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। मौके से एक जोड़ी चप्पल और हड्डियां मिली हैं। इंजीनियर की मां ने चप्पल देखकर बॉडी की शिनाख्त की। बताया जा रहा है कि मौके से एक नोट भी मिला है। हालांकि, पुलिस पहली नजर में इसे हत्या का मामला मान रही है। पति से अलग रहती थी इंजीनियर...
- मौके पर जो नोट मिला है, उसमें मृतका ने अपनी मां से बच्चों का ख्याल रखने की बात कही है। महिला इंजीनियर का नाम सरिता देवी है।
- वह मनरेगा में जेई है और मुरौल में पोस्टेड है। यह मामला रविवार देर रात अहियापुर थाना क्षेत्र के कोल्हुआ बजरंग विहार कॉलोनी के एक निर्माणाधीन मकान का है।
- सोमवार सुबह मोहल्ले वालों की जानकारी देने पर इंस्पेक्टर विश्वमोहन चौधरी मौके पर पहुंचे। महिला का शरीर बुरी तरह से जला था, सिर्फ हड्डियां ही मिलीं।
- पुलिस को शक है कि शरीर को जलाने के लिए किसी केमिकल का भी इस्तेमाल हुआ है। इंजीनियर की मां कुसुम देवी ने उसकी पहचान की है।
पति से संबंध में था तनाव

- महिला इंजीनियर के पति विजय सिंह के साथ संबंध में तनाव बताया जा रहा है। पति गांव में ही रहता है।
- महिला अफसर एक बेटे के साथ यहां रहती थी। वारदात वाले दिन एक बेटा नानी के घर था। दूसरा बेटा ध्रुव दरभंगा में पॉलिटेक्नीक की पढ़ाई करता है।
पुलिस ने क्या कहा?

- सोमवार रात मौके का मुआयना करने के बाद रात एसएसपी विवेक कुमार ने कहा कि पहली नजर में मामला हत्या का दिखाई दे रहा है।
- उन्होंने कहा सभी पहलुओं की जांच की जा रही है। एसएसपी की विजिट के बाद बाद मकान को सील कर दिया गया है।
तीन साल से मुरौल में रह रही थी महिला

- सरिता मूल रूप से सीतामढ़ी के कन्हौली फुलकाहां की रहने वाली थी। पिछले तीन साल से मुरौल डिविजन में जेई के पद पर पोस्टेड थी।
- वह बजरंग विहार कॉलोनी में विजय कुमार गुप्ता के मकान में रहती थी। बता दें कि विजय मनरेगा की अलग-अलग योजनाओं का एस्टीमेट बनाता था।
- कॉलोनी में ही विजय का एक और निर्माणाधीन मकान है, जहां पर सरिता अक्सर ऑफिस से जुड़े निजी काम करती थी। जलने की घटना वहीं हुई।
केमिकल छिड़क कर जलाया?

- सोमवार की सुबह वहां शॉर्ट सर्किट से आग लगने की सूचना पर आसपास के लोग जुट गए। लोगों को अंदर नहीं जाने दिया जा रहा था, लेकिन मोहल्ले के कुछ लोग जबरन अंदर चले गए।
- वहां देखा कि एक कुर्सी जली हुई है। पास ही चप्पल पड़ी है। पैर की जली हड्डी दिख रही थी।
- पुलिस भी मौके पर पहुंची। जानकारी के मुताबिक उस पर केमिकल भी छिड़का गया था, ताकि अवशेष नहीं बचे।
- लोगों के मुताबिक, महिला अफसर आखिरी बार रविवार शाम को देखी गई थी। उसने आसमानी कलर की समीज व क्रीम कलर की सलवार पहन रखा था।

Source: Bhaskar

CO-arrived-for-eviction-and-fled

सीवान.सीवान में अतिक्रणण हटाने गई जिला प्रशासन की टीम को भारी विरोध का सामना करना पड़ा। विरोध में अतिक्रमणकारी सड़क पर लेट गए और सीओ की गाड़ी को आगे बढ़ने नहीं दिया। लोग इतने उग्र हो गए कि महिला सीओ को जान बचाकर भागने पर मजबूर होना पड़ा। गाड़ी पर किया पथराव...

लौटते समय सीओ अर्चना कुमारी के गाड़ी पर पथराव भी किया गया जिससे गाड़ी के शीशे चकनाचूर हो गए। बाद में पुलिस पहुंची और अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई शुरू हुई। रविवार को पूर्वाह्न 11 बजे अतिक्रमण पर जिला प्रशासन का बुलडोजर चला। इस दौरान ललित बस स्टैण्ड से गोपालगंज मोड़, जेपी चौक, बबुनिया मोड तरवारा मोड़ तक अतिक्रमण कर बनाई गई 200 अवैध दुकानों निर्माणों को तोड़ा गया। इसके अलावा सड़क किनारे दोनों तरफ बनी झुग्गियों बडे़ दुकानदारों द्वारा नालों पर कराए गए निर्माणों को हटाया गया।

पुलिस पहुंची तब मामला हुआ शांत

गोपालगंज मोड पर जेसीबी लेकर अतिक्रमण हटवाने पहुंची सीओ को अतिक्रमण हटवाना महंगा पड़ गया। अतिक्रमण हटने से नाराज अतिक्रमणकारियों का हुजूम सड़कों पर लेट गया और विरोध शुरु कर दिया। अतिक्रमणकारियों के आक्रोश से सहमी सीओ आनन -फानन में अपनी सरकारी गाड़ी में सवार हुई और बबुनिया मोड़ की तरफ निकल भागी। इस पर आक्रोशितों ने गाड़ी पर पथराव कर दिया। पथरावा से सीओ की गाडी का पिछला शीशा टूटकर चकनाचूर हो गया है

Source: bhaskar

hearing in  Supreme Court today Shahabuddin, Rocky Prasad Yadav and Rajbllb

पटना. सुप्रीम कोर्ट में आज आरजेडी नेता शहाबुद्दीन, रेप के आरोपी आरजेडी विधायक राजबल्लभ यादव और गया रोड रेज मामले में हत्या के आरोपी रॉकी यादव से संबंधित तीन बड़े मामलों पर सुनवाई होगी। इन मामलों पर होगी आज सुनवायी...
शहाबुद्दीन को सीवान से तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने की याचिका पर भी आज ही सुनवाई होनी है। इसी प्रकार बलात्कार के आरोपी आरजेडी विधायक राजबल्लभ यादव की जमानत को रद्द करने की याचिका और गया रोड रेज मामले में हत्या का आरोपी जदयू पार्षद मनोरमा देवी का बेटा रॉकी यादव के बेल को खारिज करने के लिए भी बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट में अपील करने वाली है।
समय सीमा समाप्त

18 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान राजबल्लभ के वकील ने जवाब देने के लिए समय मांगा था। कोर्ट ने जवाब देने के लिए राजबल्लभ को एक सप्ताह का समय दिया था, जो कि कल पूरा हो गया।
भाजपा का सरकार पर दबाव
भाजपा नेता सुशील मोदी ने नीतीश कुमार सरकार पर दबाव बनाते हुए मांग की है जिस तरीके से शराबबंदी और बिहार म्यूजियम मामलों में बिहार सरकार ने नामचीन वकीलों से पैरवी करवाई थी, उसी तरह इन तीनों मामलों में भी बिहार सरकार सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकीलों से पैरवी करवाएं.

Source: Bhaskar


मुजफ्फरपुरबिहार के मुजफ्फरपुर के सदर अस्पताल में शुक्रवार सुबह 7 बजे स्टाफ-डॉक्टर की शर्मनाक लापरवाही ने एक नवजात की जान ले ली। इस दर्दनाक हादसे के अलावा भी एक घटना वहां हुई। वहां मानवीय संवेदना की मौत भी हुई। जी हां, अगर किसी मां की करुण आवाज को यह कह कर दबाया जाए कि ‘दो बच्चे तो पहले से ही हैं, तीसरे की जरूरत क्या थी’? महिला की पिटाई भी की....
-आरोप है कि जीएनएम ने महिला की पिटाई भी की। मनियारी थाना क्षेत्र के छितरौली गांव के नरेश साह की पत्नी पूजा देवी को प्रसव पीड़ा के साथ-साथ मानसिक पीड़ा भी झेलनी पड़ी।
महिला को ‘मुर्दे’ की तरह ले जाने के समय हुआ हादसा
- जानकारी के मुताबिक, पूजा को गुरुवार शाम सदर अस्पताल में प्रसव के लिए भर्ती कराया गया। उसे महिला वार्ड के बेड नंबर-5 पर भर्ती किया गया।
- शुक्रवार सुबह 6 बजे से दर्द शुरू हुआ। महिला की सास प्रमिला देवी व बहन माया देवी ने जीएनएम को बताया। लेकिन, उन्हें फटकार कर भगा दिया।
- कहा कि 9 बजे के बाद प्रसव होगा। इस बीच 6.45 बजे पूजा प्रसव दर्द से कराहने लगी और नवजात का सिर बाहर आ गया।
- इसके बाद दो जीएनएम वार्ड में आईं और पूजा को ‘मुर्दे’ की तरह उठाकर प्रसव कक्ष ले जाने लगी। इस दौरान लापरवाही ऐसी कि नवजात बच्चा फर्श पर गिर पड़ा, जिससे उसकी मौत हो गई।
- यही नहीं, नवजात की मौत की घटना को छिपाने के लिए रो रही पूजा देवी की जीएनएम ने पिटाई की और कहा कि दो बच्चे तो पहले से ही थे, तीसरे की क्या जरूरत थी। नवजात की मौत पर परिजनों ने खूब हंगामा भी किया।
इनका है कहना
मुजफ्फरपुर के डीएम धर्मेंद्र सिंह का कहना है कि यह बेहद गंभीर मामला है। सिविल सर्जन से पूरे मामले की जानकारी लेकर इसकी जांच कराई जाएगी। लापरवाही सामने आने पर दोषी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Source: bhaskar

On the platform waiting for the train youth offender shot

पटना.पटना-गया रेलखंड का मसौढ़ी कोर्ट हॉल्ट स्टेशन पर शनिवार सुबह गोलियों की आवाज से खौफ पसर गया। एक हथियारबंद अपराधी ने ट्रेन का इंतजार कर रहे युवक को गोली मार दी। बचने के लिए वह दौड़ा तो अपराधी ने भी उसका पीछा किया। अपराधी ने युवक के सीने में सरेआम चार गोलियां उतार दीं और हथियार लहराते हुए मौके से फरार हो गए।
प्राप्त जानकारी के अनुसार गोलियों का शिकार हुए युवक का नाम राजकुमार है। गंभीर हालत में उसे पीएमसीएच रेफर किया गया है। राजकुमार मसौढ़ी के केवड़ा गांव का निवासी है। मौके पर पहुंची पुलिस ने प्लेटफॉर्म से तीन जिंदा कारतूस और पांच खोखा बरामद किया है।
बताया जा रहा है कि गोली मारने वाला युवक राजकुमार का भतीजा है। दोनों परिवार के बीच लंबे समय से भूमि विवाद चल रहा है। इसी संबंध में कोर्ट में चल रहे केस के चलते राजुकमार पटना जाने के लिए ट्रेन का इंतजार कर रहा था।

Source: bhaskar

Incredible Bihar

(c) All right reserved by Incredible Bihar

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget